करवा चौथ: बाजारों में दिखी रौनक, महिलाओं ने जमकर की खरीदारी 

करवा चौथ: बाजारों में दिखी रौनक, महिलाओं ने जमकर की खरीदारी 

करवा चौथ: बाजारों में दिखी रौनक, महिलाओं ने जमकर की खरीदारी 

 

कुशीनगर। करवा चौथ पर्व को लेकर शनिवार को जिले के शहरों, कस्बो व चौक चौराहो के बाजारों में एक बार फिर रौनक लौट आई है। दशहरे के बाद अब करवाचौथ को लेकर तैयारियां की जा रही हैं। इसमें महिलाएं सबसे ज्यादा खरीदारी के लिए बाजारों में दिखी। यहां महिलाएं साज-शृंगार, सोने-चांदी के आभूषण, साड़ी, शूट आदि खरीदने में काफी मशगूल रही। आज 24 अक्तूबर को मनाए जाने वाला करवाचौथ पर बाजारों में खासी भीड़-भाड़ नजर आ रही थी।

इंटरनेशनल एयरपोर्ट के लोकापर्ण में रजनीकांत का कद बढा गये पीएम मोदी

गौरतलब हो कि कोरोना के चलते लम्बे समय से बाजरो में सन्नाटा छाया रहा। वही तीसरी लहर आने की आशंका में लोग काफी सहमे हुए थे, लेकिन सरकार द्वारा कोरोना के गाइडलाइन के साथ त्यौहारो को मानने के बाद दशहरे के त्यौहार से धीरे-धीरे बाजारों में रौनक लौटने लगी है। इसी को देखते हुए करवाचौथ की तैयारी के लिए बाजारों में जगह-जगह दुकानें सजी हुई हैं। करवा-चौथ पूजन के लिए खास माने जाने वाले मिट्टी के करवा भी बाजारों में उपलब्ध है। शहर से लेकर कस्बों में सजी दुकानों पर कुम्हारों द्वारा बनाये गये मिट्टी के करवां की भी मांग महिलाओं द्वारा की जा रही थी। जिले भर में इस पर्व को लेकर जमकर उत्साह देखी गई तो वही जमकर खरीदारी हुई। महिलाओं की भीड़ साड़ी, शूट आदि की दुकानों पर लगी हुई थी।

 

◆ चूड़ियां और चलनी की खरीदारी रही तेज:-

हिंदू महिलाओं के लिए करवा चौथ का त्यौहार विशेष महत्व रहता है। इस दिन महिलाएं अपनी सुहाग के लंबी उम्र लिए व्रत रखती है। आज 24 अक्तूबर रविवार को करवा चौथ का व्रत रखा जाएगा। इसके लिए बाजारों में महिलाओं के साज श्रृंगार के लिए दुकानें सज गयी है। चूड़ियों व चलनी आदि की सजी दुकानों पर पहुंची सीमा, ममता, अनीता ने बताया कि करवा चौथ का व्रत निकट आ गया है, इसके चलते वह बाजार में खरीदारी करने के लिए पहुंची है। महिलाएं सर्राफा बाजार में स्थित दुकानों पर महिलाओं की काफी भीड़ देखने को मिली। यहां महिलाएं अपने पसंद के आभूषण की खरीद करते हुए देखी गयी।

महारुद्र सेवा समिति ने लिया आगामी छठ पूजा की तैयारियों का जायजा

◆ पति के दीर्घायु के लिए महिलाए रखती है ब्रत:-

 इस दिन सुहागिन महिलाएं पति की दीर्घायु के लिए व्रत करती है और ईश्‍वर से आशीर्वाद प्राप्‍त करती है।